Category: PRAVIN AHUJA

मेरी ना का मतलब ना होता है 0

मेरी ना का मतलब ना होता है

पूछो मत क्यों ना कहा मैंने, क्योंकि हर क्यों का जवाब नहीं होता? खुशबू तो हर फूल में होती है पर हर फूल गुलाब नहीं होता। तुमने बोतल ख़तम कर दी तो कुछ न...

हम जब बच्चे थे और बरसात होती थी 0

हम जब बच्चे थे और बरसात होती थी

हम जब बच्चे थे और बरसात होती थी उस दिन मानो जैसे खुशियों की सौगात होती थी हम अपनी अपनी कागज़ की कश्तियाँ तैराते थे और मस्ती से छप-छप करते भीगते- भिगाते थे बारिश...