मेरे हिस्से का आकाश

  मैं जो भी हूँ जैसा भी हूँ अपने बजूद को पहचानता हूँ, आपको भी मेरी पहचान का सम्मान करना होगा| मेरे हिस्से का आकाश मुझे देना होगा|| मेरे परों में भी ऊंची उड़ान...