Category: kk saini

बता क्या है 0

बता क्या है

मैंने की है मोहब्बत, इसमें नया क्या है पुराना क्या है जब हो ही गयी है ,तो बेवकूफ क्या है सयाना क्या है अगर है करना तो जानेजान ,इश्क एक बार करो ये मिटाकर...

गरीबी : एक वक़्त 0

गरीबी : एक वक़्त

वो कभी सिर के बल कभी हाथों के बल खड़ी हो जाती है, वो गुडिया भीख नहीं अपने करतब का इनाम मांगती है। फिर सब कुछ हो कर भी मैं खुद को इतना गरीब...

अगर वो नाराज है तो दूर रहता रहे 0

अगर वो नाराज है तो दूर रहता रहे

अगर वो नाराज है तो दूर रहता रहे, पर कोई उसे कहे वो बात करता रहे। पैमाने बहुत थे सबको किनारा किया मैंने, भले नज़र में ना हो पर वो नज़र आता रहे। वो...

बस वो रहे 0

बस वो रहे

अगर वो नाराज है तो दूर रहता रहे पर कोई उसे कहे वो बात करता रहे पैमाने बहुत थे सबको किनारा किया मैंने भले नज़र में ना हो पर वो नज़र आता रहे वो...